Yellow Fungus. क्या यलो फंगस, वाइट और ब्लैक फंगस से ज्यादे खतरनाक है?(Are yellow fungus more dengerous than white)

क्या यलो फंगस

क्या यलो फंगस ,देश मैं पैर पसार रहा है | अभी हमारा देश करोना से लड़ ही रहा है ,  और देश करोना की चपेट मैं ही है , तब तक एक और नई मुसीबत सामने आकर खड़ी हो गई | इस मुसीबत को फंगस का नाम दिया गया है , अभी तक भारत मैं तीन प्रकार के फंगस की पुष्टि हुई है ( वाइट फंगस, ब्लैक फंगस , और यलो फंगस )|  ये फंगस सबसे ज्यादे कोरोना से ठीक हुए मरीजो को अपने चपेट मैं ले रहे है |  yellow fungus क्या यलो फंगस ,वाइट और ब्लैक फंगस से ज्यादे खतरनाक हैं |  

यलो फंगस , वाइट और ब्लैक फंगस से ज्यादे खतरनाक है यलो फंगस का पहला मरीज गाज़िबाद मैं मिला है इस यलो फंगस के आने से देश मैं डर का माहोल बढता ही जा रहा है, यलो फंगस एक फंगल इन्फेक्शन है जो होने के बाद शारीर के अंगो को इन्फेक्ट कर रहा है और अनुपयोगी बना दे रहा है जिससे मनुष्य की जान जाने का खतरा बढ जा रह है |

ऐसे समय मैं सबसे जरुरी यह है की आप सरकार के बताये गाइडलाइन का पालन करे और अपने आस-पास सफाई का पूरा ध्यान दे |

yellow fungus : क्या यलो फंगस वाइट और ब्लैक फंगस से ज्यादे खतरनाक है ?

अभी तक तो सूत्रों से यही पता चला है की यलो फंगस ,वाइट और ब्लैक फंगस से ज्यादे खतरनाक है| यलो फंगस उन मरीजो को अपने चपेट मैं ले रहा है जो हॉल मैं ही कोरोना से ठीक हुए है या अभी कोरोना से ग्रषित है | यलो फंगस उन मरीजो को भी हो रहा है जो डायबीटीज से पीड़ित है | ये समय आज पूरी दुनिया के लिए बहुत कठिन समय है सब कोरोना की महामारी से लड़ रहे है| ऐसे मैं सबसे जरुरी यही है की सरकार के बताये गाइडलाइन नियमो का अच्छे से पालन करे |

यलो फंगस होने का कारण |

यलो फंगस होने का मुख्य कारण हाइजिन मेंटेन ना करना भी हो सकता है | इसलिए जहा भी रहे अपने आस-पास साफ़ सफाई का पूरा ध्यान रखे | क्योंकी फंगल इन्फेक्शन होने का मुख्य कारण गन्दगी भी हो सकती है| अपने घर से उन पुरानी चीजों को हटा दे जिससे फंगस फैलने का खतरा हो |हमारे आस-पास आधिक गन्दगी होना भी यलो फंगस का मुख्य कारण हो सकता है |इसलिए जहा भी अपने आस-पास साफ़ सफाई का पूरा ध्यान रखे और अपने और अपने परिवार को फंगल इन्फेक्शन से बचाए |

यलो फंगस के लक्षण |

यलो फंगस एक बहुत ही घातक बीमारी है | ये बीमारी हमारे आसपास फैले गन्दगी के कारण भी सकती है |इस घातक बीमारी के कुछ लक्षण भी है :-

  1. सुस्ती का महसूस होना ( कमजोरी का महसुस होना )| 
  2. भूख का कम लगना या भूख ना लगना |
  3. शारीर का वजन कम होना ( शारीर का वजन ना बढना ) |
  4. यलो फंगस के समय मैं ,शारीर मैं कोई घाव है तो उस घाव से मवाद निकलना या घाव का बहुत धीमी गति से ठीक होना ये भी यलो फंगस के लक्षणों मैं से एक है |
  5. यलो फंगस का इन्फेक्शन कई लोगो की आखो मैं भी देखा जा सकता है इसीलिए अगर आपके आँख मैं कोई इन्फेक्शन का खतरा दिखे तो डॉक्टर से संपर्क करे |
  6. इस दौरान मरीज की आँखे धस जाती है |
  7. यलो फंगस होने पर शारीर के अंग भी ख़राब हो सकते है |

यलो फंगस से बचने के लिए उपाए |

अगर आपके शारीर मैं यलो फंगस के लक्षण दिखे तो आप तुरंत ही अपने नजदीकी डॉक्टर से संपर्क करे और अपना अच्छे से इलाज कराये | यलो फंगस एक घातक बीमारी है इसको आप हल्के मैं ले इस बीमारी के चलते आपकी जान भी जा सकती है | यलो फंगस से बचने के लिए आप अपने प्रतिरोधक छमता को बहुत मजबूत बनाये जिससे आपकी बॉडी किसी भी फंगल इन्फेक्शन से बच सके| अपनी प्रतिरोधक छमता बढाने के लिए आप अच्छे आहार का सेवन कर सकते है |   

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *