Signal vs WhatsApp: किस ऐप के प्राइवेसी फीचर हैं बेहतर, जानें दोनों के 5 फीचर्स के बारे में

भारत में WhatsApp सबसे ज्यादा पसंद और इस्तेमाल जाने वाले मैसेजिंग ऐप में से एक है, लेकिन कंपनी की हाल ही में ई प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर विवाद हुआ. इसके बाद कई लोगों इसकी बजाए सिग्नल ऐप का इस्तेमाल शुरू कर दिया. वहीं व्हाट्सएप ने कहा कि सभी चैट एन्क्रिप्टेड हैं और फेसबुक इसे एक्सेस नहीं कर सकती. वहीं सिग्नल एक प्राइवेट मैसेजिंग ऐप है, जो केवल एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन देता है, बल्कि कई प्राइवेसी फीचर्स के साथ कम से कम यूजर डेटा कलेक्ट करता है. इन दोनों मैसेजिंग ऐप के पांच प्राइवेसी फीचर्स पर एक नजर डालते हैं.

Signal privacy features

Screen Security

ऐप यह सुनिश्चित करता है कि आप दूसरों को चैट के स्क्रीनशॉट लेने से रोक सकते हैं. स्क्रीन सिक्योरिटी नाम का एक फीचर है, जो सभी चैट के स्क्रीनशॉट को रोकता है. इसे Settings section > Privacy > Screen Security में जाकर इनेबल किया जा सकता है.

Incognito Keyboard

सिग्नल ऐप की यह अच्छी विशेषता है जो कीबोर्ड को आपकी लिखी गई चीज़ों को सेव करने की अनुमति नहीं देता है. कंपनी का कहना है कि एक बार जब आप Incognito Keyboard को इनेबल करते तो आपकी लिखी चीजें सेव करना बंद कर देता है. इस सैटिंग्स में जाकर Settings section > Privacy > enable Incognito Keyboard

इनेबल किया जा सकता है.

Screen lock

आप व्हाट्सएप की तरह ही सिग्नल पर फिंगरप्रिंट लॉक सेट कर सकते हैं. यूजर्स एप्लिकेशन तक पहुंचने के लिए अपने फोन के फिंगरप्रिंट सेंसर या पासकोड का उपयोग कर सकते हैं.

Read receipts

व्हाट्सएप की भांति ही सिग्नल ऐप में receipts को डिसेबल और इनेबल करने का विकल्प होता है, जो मूल रूप से आपको यह बताता है कि किसी ने मैसेज देखा है या नहीं. मैसेजिंग ऐप इसको ऑन या ऑफ करने सुविधा होती है. दोनों ही फीचर्स ऐप के प्राइवेसी सेक्शन में उपलब्ध हैं.

Group invitation privacy

यदि आप सिग्नल में एक ग्रुप बनाते हैं, तो आपके सभी दोस्तों को ग्रुप में ऑटोमैटिक रूप से नहीं जोड़ सकते. आप जिसे जोड़ना चाहते हैं उसे सिग्नल एक इंविटेशन भेजता है, जिसे स्वीकार करने पर ही वह ग्रुप में जुड़ता है. व्हाट्सएप में इस ऑप्शन को सैटिंग्स में जाकर ऑन करना पड़ता है.

WhatsApp privacy features

Fingerprint lock

व्हाट्सएप में आप फिंगरप्रिंट लॉक एड कर सकते हैं और केवल आप ही अपने प्राइवेट मैसेज को एक्सेस कर सकते हैं. व्हाट्सएप में यह फीचर आपकी कॉल को ब्लॉक नहीं करता है और केवल आने वाले मैसेज को ही हाइड करता है.

Group invitation system

व्हाट्सएप पर कोई भी व्यक्ति आपको ग्रुप में जोड़ सकता है यदि उस व्यक्ति के पास आपका मोबाइल नंबर है. यदि आप नहीं चाहते कि कोई आपको ग्रुप में जोड़े तो आप सेटिंग बदल सकते हैं. इससे आप तय कर सकते हैं कौन आपको ग्रुप में में जोड़ सकता है और कौन नहीं. ऐप सैटिंग्स में जाकर Everyone, My Contacts और My Contacts Except में से कोई ऑप्शन चुन सकते हैं.

Profile privacy

व्हाट्सएप में आपको यह ऑप्शन मिलता है आप पर्सनल प्रोफाइल में दूसरों के साथ शेयर करना चाहते हैं या नहीं. यदि आप दूसरों लोगों को प्रोफाइल नहीं दिखाना चाहते तो इसे हाइड कर सकते हैं.

Last Seen privacy:

प्रोफाइल प्राइवेसी की तरह ही व्हाट्सएप में आपको लास्ट सीन और स्टेटस को भी हाइड करने का ऑप्शन मिलता है. यदि आप लास्ट सीन नहीं दिखाना चाहते तो हाइड कर सकते हैं.

Status privacy

स्टेटस प्राइवेसी के लिए ऑप्शन दिए गए हैं जो आपके स्टेटस अपडेट को देख सकते हैं. इनमें ‘My Contact,’ ‘My Contacts except’ और ‘Only Share with ‘ के ऑप्शन मिलते हैं.

यह भी पढ़ें-

बिना चैट खोले WhatsApp Web पर पढ़ें मैसेज, जानिए आसान तरीका

Samsung Galaxy M12 स्मार्टफोन लॉन्च, 6000mAh बैटरी के साथ मिलेगा क्वॉड रियर कैमरा सेटअप

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *